1/11/2019 5:17:40 PM

इस तकनीक से होती है EVM के वोटों की गिनती, आप भी जानिए

इंटरनेट डेस्क। देश में लोकसभा चुनाव बेहद नजदीक हैं। ऐसे में हम आपको बता रहे हैं चुनावों में इस्तेमाल की जाने वाली ईवीएम मशीन के बारे में  महत्वपूर्ण जानकारी। ईवीएम मशीन के अंदर एक गहरा राज छिपा होता हैं, जिसे अभी तक शायद ही आप जानते हो। चलिए हम आपको बता देते हैं कि ईवीएम में वोटों की गिनती किस प्रकार से आती हैं। देश में एक बार में सिर्फ 14 ईवीएम की गिनती की जाती हैं। 

डोनाल्ड ट्रंप के कॉलेज से पढ़े हैं राजस्थान के उपमुख्यमंत्री

बता दे जब भी वोटों की गिनती शुरू की जाती हैं तब सबसे पहले ईवीएम की जांच की जाती हैं। जोकि काउंटिंग स्टाफ और एजेंट्स के द्वारा की जाती हैं। जांच पूरी होने के करीब आधे घंटे बाद ईवीएम वोटों की गिनती शुरू कर दी जाती हैं। वहां मौजूद रिटर्निंग ऑफिसर प्रत्येक राउंड के बाद कम से कम दो मिनट तक गिनती रोक देता हैं। इस समय में वह अपने एजेंटों के माध्यम से वोटों की री-काउंटिंग करवाता हैं। 

जानिये 12 वीं पास विधार्थियों के लिए ये हैं डीयू में प्रवेश की प्रक्रिया

वोटों की गिनती पूरी करने के बाद और अच्छी प्रकार से जांच के बाद रिटर्निंग ऑफिसर को परिणाम जारी करने की अनुमति प्राप्त हो जाती हैं। आपको बता दे रिटर्निंग ऑफिसर डायरेक्ट जनता को परिणाम नहीं सुनाता हैं बल्कि वह इन नतीजों को चुनाव आयोग और उचित प्राधिकारी के समक्ष रखता हैं। जिसके बाद आयोग ही इसकी जानकारी जनता तक पहुंचाता हैं। बता दे काउंटिंग सुबह 8 बजे शुरू होती हैं और ख़त्म होने तक चलती रहती हैं।