दहेज लोभियों के हत्थे चढ़ी एक और लाडो ...

दहेज लोभियों के हत्थे चढ़ी एक और लाडो ...
Published Date:
Tuesday, June 19, 2018 - 19:17

नित्यानंद शर्मा

चौमु /जयपुर : जानकारी के मुताबिक कालाडेरा थाना क्षेत्र के ग्राम बिहारीपुरा में रविवार को सुनिता ताखर की ससुराल में करंट लगने से मौत हो गई। सुनिता के कंरट लगने पर ससुराल वालों ने बराला हास्पिटल में एम्बुलेंस से पहुंचाया, जंहा पर उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं मौके पर पहुंचे सुनिता के पीहर पक्ष ने मामला संदिग्ध मानते हुए पोस्टमार्टम की मांग की,जिस पर ससुराल पक्ष ने नाराजगी जाहिर की, वहीं अंततः सुनिता का पोस्टमार्टम किया गया, जंहा पर सुनिता की मौत करंट से ना हो कर गला दबाने से बताया गया। वहीं सूत्रों के मुताबिक जानकारी यह भी मिल रही है कि सुनिता की मौत हास्पिटल में लाने से लगभग 8 घंटे पहले ही हो चुकी थी।

ससुराल पक्ष ने अपने आप को बचाने के लिए यह ड्रामा रचा, जिसमें एम्बुलेंस कर्मचारियों ने अपनी पूरी भूमिका अदा की ।वंही पूरा मामला समझ सुनिता के पीहर पक्ष ने पुलिस को नामजद रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए दी,और पुलिस अपने काम में लग गई।एक और सुनिता के पीहर पक्ष में मातम का माहौल बना हुआ था। तो दुसरी ओर ससुराल पक्ष अपने आप को बचाने की मुहिम में जुटे हुए थे। क्योंकि सुनिता की जेठानी रिसला ताखर उक्त गांव की मौजूदा सरंपच है, उसने अपने तार जोड़ने शुरू कर दिए। वहीं खाकी से न्याय की आस में बैठे पीहर पक्ष को अब खाकी पर ही पूरी उम्मीद थी कि उनकी बेटी को वहीं न्याय दिला पायेगी। लेकिन माना जा रहा है कि यह आस कुछ देर बाद ही टूट गई।

सूत्रों के मुताबिक पुलिस अब पूरे मामले में सिर्फ एक महिला को ही आरोपी मान रही है, बाकी को सोमवार देर रात पुलिस ने उन्हें रिहा कर फिर अपनी कार्यशैली को सवालों के घेरे में डाल दिया है।जो पुलिस दो दिन पहले 2-3 आरोपी मामले में मान रही थी, वहीं पुलिस आज अभी तक मिलीभगत करने वाले एम्बुलेंस कर्मचारियों से पूछताछ तक नहीं कर रही है।
देखने वाली बात यह है कि.. जनता की सुरक्षा का दायित्व निभाने वाली सरकार और प्रशासन अब तक खामोश रहते हुए पीड़ित को न्याय नहीं दिला पा रहे हैं.....

आखिर प्रशासन और सरकार बेटियों पर हो रहे अत्याचारों पर अब तक लगाम क्यों नहीं लगा पाये ? ? और क्या सुनीता की आत्मा को न्याय मिल पाएगा .. जो चीख - चीखकर न्याय की आस में आज भी न्याय के मंदिर की चौखट पर बैठकर न्याय का इंतजार कर रही है......