वसुंधरा काला दिवस प्रधानमंत्री के आने पर राजस्थान में मनाएगा राजपूत-रावणा समाज

वसुंधरा काला दिवस प्रधानमंत्री के आने पर राजस्थान में मनाएगा राजपूत-रावणा समाज
Published Date:
Thursday, July 5, 2018 - 21:27

【 एस. पी मित्तल - वरिष्ठ पत्रकार एवं प्रसिद्ध ब्लॉगर 】

जयपुर

सात जुलाई को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक दिवसीय यात्रा पर जब जयपुर में होंगे, तब राजपूत-रावणा राजपूत समाज से जुड़े महिला-पुरुष राजस्थान भर में वसुंधरा काला दिवस मनाएंगे। इसके साथ भाजपा के लिए आगामी विधानसभा चुनाव मिशन 18 का ऐलान भी किया जाएगा।

जय राजपूतना संघ के प्रदेश संयोजक भंवर सिंह रेटा ने बताया कि 4 जुलाई को जयपुर में दोनों समाजों के प्रमुख प्रतिनिधियों की एक बैठक हुई। इस बैठक में गिरिराज सिंह लोटवाड़ा, दुर्गसिंह, महेन्द्र सिंह रूपपुरा, मनोहर सिंह हातौज, बलवीर सिंह हातौज आदि प्रतिनिधि उपस्थित रहे। बैठक में कहा गया कि वसुंधरा राजे के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार ने समाज की मांगों पर जो समझौता किया था, उसे आज तक भी पूरा नहीं किया है।

भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष के मामले में जिस तरह केन्द्रीय कृषि राज्यमंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत का विरोध किया,उससे तो वसुंधरा राजे के प्रति समाज में और नाराजगी बढ़ी है। इस नाराजगी को देखते हुए ही 7 जुलाई को प्रदेशभर में वसुंधरा काला दिवस मनाया जाएगा। ताकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का ध्यान सीएम राजे की समाज विरोधी गतिविधियों की ओर खींचा जाए। जहां तक प्रधानमंत्री की आम सभा में विरोध जताने का सवाल है तो यह परिस्थितियों पर निर्भर करेगा। लोकतांत्रित व्यवस्था में शांतिपूर्ण विरोध प्रकट करने का अधिकार सबको है।

● मिशन 18 का ऐलान ●

रेटा ने बताया कि 7 जुलाई को ही भाजपा के लिए मिशन 18 का भी ऐलान किया जाएगा। लोकतंत्र के उपचुनाव में राजपूत-रावणा राजपूत समाज ने खुल कर सीएम वसुंधरा राजे का विरोध किया था। इसी का परिणाम रहा कि भाजपा सभी 17 विधानसभा क्षेत्रों में हार गई। अजमेर में तो भाजपा का भट्टा ही बैठ गया। उम्मीद थी कि इस बुरी हार से भाजपा कोई सबक लेगी, लेकिन प्रतीत होता है कि भाजपा नेताओं और सीएम सहित अधिकांश जनप्रतिनिधियों का घमंड बरकरार है।

जब राजपूत और रावणा राजपूत उपचुनाव में 17-0 का स्कोर कर सकता है तो फिर विधानसभा चुनाव में मिशन 18 पूरा क्यों नहीं हो सकता। रेटा ने स्पष्ट किया कि दोनों समाजों के लोग विधानसभा चुनाव में भाजपा को 18 सीटों तक ही सीमित रखने का प्रयास करेंगे। सीएम राजे ने 180 सीटों का जो लक्ष्य घोषित किया, उस पर उपचुनावों में पानी फिर गया। रेटा ने बताया कि दोनों समाजों की एक संयुक्त टीम बनाई जा रही है जो शीघ्र ही प्रदेशभर का दौरा करेगी। गांव ढाणी तक समाज के लोगों को जागरुक किया जा रहा है।
भाजपा के लिए मिशन 18 के संबंध में मोबाइल नम्बर 9413933337 पर भंवर सिंह रेटा से संवाद किया जा सकता है।