Wednesday : 24-10-18 04:51:38 AM
English Hindi

मोदी-पुतिन की बैठक में एस-400 डील हुई सील, अब रूस में भी इंडिया के आधार पर लागु होगा GST 

मोदी-पुतिन की बैठक में एस-400 डील हुई सील, अब रूस में भी इंडिया के आधार पर लागु होगा GST 
Saturday, October 6, 2018 - 13:36
17

नई दिल्ली: एस-400 डील सील हो गई है, अब भारत-रूस के सामने कई मुश्किल चुनौतियां होगी। जब एक छात्र ने रूसी राष्ट्रपति से पूछा सवाल तो पुतिन बोले पड़े की इसका जवाब देना कठिन है। S-400 डील के बाद भारत ने अमेरिका को ठंडा पटक दिया। एस-400 खरीदने के लिए रूस से करार, मोदी व पुतिन की अगुवाई में हुई बैठक में इस पर मुहर लग गई है। राष्ट्रपति भवन में पुतिन के लिए औपचारिक रिसेप्शन नहीं रखा गया। 

भारत और रूस ने अपने दो दशकों के सबसे बड़े रक्षा सौदे पर हस्ताक्षर कर दिए हैं। दोनों देशों के बीच शुक्रवार को 8 समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए थे। जिसमें एस-400 सर्फेस-टू-एयर मिसाइल सिस्टम भी शामिल है। लेकिन अब दोनों देशों के बीच पैसों के हस्तांतरण को लेकर बड़ी चुनौती सामने खड़ी है। अमेरिका द्वारा रूस पर प्रतिबंध लगाए गए हैं। जिसकी वजह से सौदे की 5.43 बिलियन डॉलर की राशि के हस्तांतरण को लेकर परेशानी बनी हुई है। 

इस बीच एक छात्र ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से पूछा कि आपको किस वैज्ञानिक ने सबसे ज्यादा प्रभावित किया? इस पर पुतिन ने कहा कि इस सवाल का जवाब देना कठिन काम है, लेकिन यहां अहम यह है कि किस वैज्ञानिक ने मानवता के लिए काम किया। विज्ञान बेहद महत्वपूर्ण विषय है। जब एक रूसी छात्र ने पुतिन से सवाल किया कि BRICS के साथ स्पेश कॉरपोरेशन प्रोग्राम के बारे में आप क्या सोचते हैं? इस पर रूसी राष्ट्रपति ने कहा कि हमने इस क्षेत्र में सहयोग के लिए प्लेटफॉर्म बनाया है।

भारत ने अमेरिका को मना पहले ही मना रखा था। वहीं दक्षिण एशिया में भारत के महत्व को अमेरिका नज़रअंदाज़ नहीं कर सकता। माना जा रहा है कि इस डील से पहले अमेरिका को तैयार कर लिया गया था। पिछले महीने 2+2 डायलॉग के लिए भारत आए अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ और रक्षा मंत्री जिम मैटिस की मुलाकात भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल से हुई थी। इसी मुलाकात में अमेरिका के सामने भारत के हितों को साफ शब्दों में रखा गया था। 

रूस ने कहा की अब नये युग का आरंभ हो गया है। सनद रहे कि भारत से पहले चीन रूस से इस प्रणाली को खरीद चुका है। दोनों देशों के बीच इसकी और खरीद को लेकर बातचीत जारी है। सूत्रों ने साफ तौर पर बताया कि भारत को यह सिस्टम बेचा जा रहा है यानी इसके निर्माण या तकनीकी हस्तांतरण आदि पर बात नहीं हुई है। भारत के साथ एक बड़ा सौदा करके निश्चित तौर पर रूस बेहद खुश है। रूस ने कहा है कि भारत व रूस के पारंपरिक रक्षा सहयोग के क्षेत्र में एक नये युग का आरंभ हो रहा है।

पुतिन ने इंडिया में लगाए गए टेक्स GST को समझा, उन्होंने इसकी तारीफ करते हुए कहा की इसको रूस में भी लागू करेंगे। दोनों नेताओं ने सीमा पार आतंकवाद पर भी चर्चा की। सूत्रों ने बताया है कि राष्ट्रपति पुतिन ने पीएम मोदी के साथ जीएसटी पर भी चर्चा की। इस दौरान पीएम मोदी ने बताया कि उन्होंने देश में किस तरह जीएसटी को लागू किया। बताया गया है कि पुतिन भी अपने देश में इसे शुरू करना चाहते हैं। और इसके साथ ही दोनों नेताओं ने तेल के बढ़ते दामों पर भी चर्चा की थी। 

और पढ़ें

Add new comment