ऐसा रेलवे स्टेशन, जहा बिना टिकट यात्री करते है रेल यात्रा...!.!.!

ऐसा रेलवे स्टेशन, जहा बिना टिकट यात्री करते है रेल यात्रा...!.!.!
Published Date:
Saturday, June 9, 2018 - 14:31

हिण्डौनसिटी. कोटा रेल मण्डल के ढिंढोरा-हुक्मीखेड़ा-रेलवे स्टेशन पर टिकट की कमी होने से ग्रामीण ट्रेनों में मुफ्त यात्रा कर रहे हैं। इससे रेलवे को हर माह करीब 80 हजार रुपए के यात्री किराए का नुकसान झेलना पड़ रहा है। ढिंढोरा-हुक्मीखेड़ा-रेलवे स्टेशन पर टिकटों के अभाव में डेढ़ माह से चल रहे मुफ्त यात्रा के दौर से रेलवे के टिकट एजेंट का धंधा भी ठप पड़ा है।
रेलवे सूत्रों के अनुसार हिण्डौनसिटी-फतेहसिंहपुरा रेलवे स्टेशन के बीच स्थित फ्लेग स्टेशन ढिंढोरा-हुक्मीखेड़ा पर यात्री एजेंट से कार्ड टिकट खरीद कर ट्रेनों में यात्रा करते हैं। एजेंट को हिण्डौन सिटी रेलवे स्टेशन से नकद राशि जमा कराने पर टिकट उपलब्ध कराए जाते हैं।

दो अप्रेल को भारत बंद के दौरान हिण्डौनसिटी रेलवे स्टेशन पर आगजनी में रेलवे टिकट प्रिंटिग प्रेस से आए हजारों कार्ड टिकट जलकर राख हो गए। उधर एजेंट के पास टिकट खत्म होने से यात्रियों को टिकट नहीं मिल पा रहे हैं। ऐसे में स्टेशन से ट्रेनों में सफर करने वाले दो दर्जन से अधिक गांवों के सैकड़ों यात्रियों की ट्रेनों में मुफ्त यात्रा करने से बल्ले-बल्ले हो रही है। वहीं रेलवे को राजस्व की चपत लग रही है। इधर रेलवे स्टेशन पर कार्यरत टिकट एजेंट अशोक डागुर ने बताया कि वह एक अप्रेल को ढिंढोरा- हुक्मीखेड़ा से विभिन्न स्टेशनों के १५ हजार रुपए के टिकट खरीद कर लाया था। ये टिकट 15अप्रेल को खत्म हो गए।

छह ट्रेनों को होता ठहराव...!!

ढिंढोरा-हुक्मीखेड़ा फ्लेग स्टेशन पर दिन के समय आने वाली छह पैसेंजर ट्रेनें ठहरती हैं। इसमें रोजाना स्टेशन से लगभग पांच सौ से अधिक यात्री सफर की शुरुआत करते हैं।
ग्रामीणों ने बताया कि स्टेशन पर सुबह मथुरा-रतलाम पैंसेजर, सवाई माधोपुर-मथुरा पैसेंजर, दोपहर में आगरा-कोटा व कोटा-आगरा पैसेंजर तथा शाम को रतलाम-मथुरा, मथुरा-सवाई माधोपुर पैसेंजर ट्रेन का ठहराव होता है।

आगरा, कोटा व मथुरा तक के मिलते टिकट

फ्लेग रेलवे स्टेशन से यात्रियों को कोटा, आगरा व मथुरा तक के पचास से अधिक रेलवे स्टेशनों के यात्रा टिकट मिलते हैं। एजेंट द्वारा सर्वाधिक यात्रियों के गंतव्य वाले स्टेशन की टिकटों को ज्यादा मात्रा में रखा जाता है। इन स्टेशन से आगे के सफर के लिए यात्रियों को हिण्डौन व बयाना पहुंच आगे की यात्रा का टिकट खरीदना पड़ता है। टिकट बेचने के एबज में एजेंट को रेलवे टिकट बिक्री पर कमीशन देता है।

मुम्बई से छप कर आएंगे टिकट...!!

हिण्डौनसिटी रेलवे स्टेशन के मुख्य बुकिंग एवं पार्सल पर्यवेक्षक विनोद कुमार गोयल ने बताया ढिंढोरा-हुक्मीखेड़ा के टिकट रेलवे की टिकट प्रिंटिंग प्रेस बाहकलां मुम्बई से छपकर आएंगे। इसके लिए 9 मई को ही कोटा मण्डल व जबलपुर जोन के वाणिज्यिक विभाग के अधिकारियों को मांग पत्र भेजा जा चुका है।

उच्चाधिकारियों को कराया अवगत...!!

ढिंढोरा-हुक्मीखेड़ा स्टेशन पर कार्ड टिकटों की उपलब्धता के लिए उच्चाधिकारियों को लिखा है। हिण्डौन स्टेशन के टिकटघर में आगजनी से कार्ड टिकटों की कमी है । 
(त्रिलोकचंद राजौरा, अधीक्षक, रेलवे स्टेशन, हिण्डौनसिटी)