केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत के खिलाफ HC में याचिका दायर, कस्टोडियन प्रोपर्टी खरीद का है मामला

केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत के खिलाफ HC में याचिका दायर, कस्टोडियन प्रोपर्टी खरीद का है मामला
Published Date:
Saturday, June 2, 2018 - 13:38

जयपुर/जोधपुर। राजस्थान हाईकोर्ट में केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत के मालिकाना हक वाली कंपनी द्वारा कम कीमत पर कस्टोडियन प्रोपर्टी खरीदने के खिलाफ याचिका पेश हुई है। याचिककर्ता ने इस मामले में सीबीआई जांच की भी मांग की है।

राजस्थान हाईकोर्ट में जोधपुर की सरदारपुरा-ए रोड पर स्थित कस्टोडियन प्रोपर्टी की खरीद-फरोख्त के खिलाफ शुक्रवार को याचिका पेश की गई है। शंकरलाल गुर्जर की ओर से दायर याचिका में कहा गया कि सरदारपुरा-ए रोड पर खान बहादुर मिर्जा और कासिम बेग की जमीन थी। उनके पाकिस्तान चले जाने के कारण यह जमीन कस्टोडियन प्रोपर्टी हो गई और इसका स्वामित्व नगर निगम जोधपुर के पास आ गया। वहीं पुरुषोत्तम प्रसाद माथुर ने 1955 में प्रशासन को 1886 के दस्तावेज पेश कर इस भूमि का पट्टा बनवा लिया। याचिका में कहा गया कि धनलक्ष्मी रियल मार्ट प्रा.लि. ने इस भूमि को सवा करोड़ में खरीद लिया जबकि बाजार की कीमत करीब 50 करोड़ रुपए से अधिक थी। केन्द्रीय कृषि राज्यमंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत इस कंपनी के निदेशक और शेयर हॉल्डर हैं।

इस याचिका में कहा गया है कि केन्द्रीय मंत्री शेखावत को इन तथ्यों की जानकारी थी, लेकिन लाभ कमाने के लिए उन्होंने निगम अफसरों पर दबाव डालकर फर्जी पट्टे तैयार करवा लिए। इस संबंध में एसीबी में भी शिकायत दी गई, लेकिन मंत्री शेखावत के प्रभाव को देखकर कोई कार्रवाई नहीं हुई। ऐसे में मामले की जांच सीबीआई या एसआईटी से कराई जाए।