Sunday : 23-09-18 02:07:10 PM
English Hindi

सरकार पेट्रोल-डीजल पर नहीं घटाएगी एक्साइज़ ड्यूटी: सूत्र,राज्‍य और केन्‍द्र की कमाई 18 लाख करोड़ के पार पहुं

सरकार पेट्रोल-डीजल पर नहीं घटाएगी एक्साइज़ ड्यूटी: सूत्र,राज्‍य और केन्‍द्र की कमाई 18 लाख करोड़ के पार पहुं
Tuesday, September 11, 2018 - 14:21
41

नई दिल्ली: तेल की कीमतें बढ़ने पर जहां केंद्र सरकार ने सफाई दी है. वहीं तेल मंत्रालय के सूत्रों का कहना है कि कीमतें बाजार के हिसाब से तय हो रही हैं. हालांकि केंद्र सरकार ने कह दिया है कि कोई भी कटौती एक्साइज ड्यूटी में नहीं की जाएगी. तेल की बढ़ती कीमतों पर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से मीटिंग हो चुकी है. जबकि राजस्थान और आंध्र प्रदेश सरकार ने टैक्स में कटौती कर जनता को राहत देने की कोशिश की है, हालांकि इसे चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है. 

केन्‍द्रीय मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने कहा कांग्रेस पार्टी के समय में दस सालों में क्‍या होता था. हर हफ्ता किसी शहर में जिले में में पेट्रोल पंप ड्राई हो जाते थे. ड्राई होने के बाद बाद में फिर महंगा बेचा जाता था. लोग कहते थे कि महंगा मिल रहा है चलो ले लेते हैं. इस तरह की चालबाजी हमने नहीं की. हम ईमानदारी के साथ आम लोगों को ध्‍यान में रखकर सरोकार किया है. वहीं तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एदापद्दी के. पलानीस्वामी ने सलेम में प्रेस ब्रीफिंग में कहा कि विभिन्न सरकारी योजनाओं के लिए पैसों की ज़रूरत है. आप सभी जानते हैं कि राज्य की वित्तीय स्थिति क्या है. हम इस स्थिति में नहीं हैं कि ईंधन पर बिक्री कर घटाया जाए. केंद्र सरकार को ईंधन पर उत्पाद शुल्क घटाना चाहिए.

उधर, पेट्रोल-डीज़ल के दाम में आज फिर बढ़ोतरी हुई है. मंगलवार को दिल्ली में पेट्रोल 14 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ है, जबकि डीज़ल के दाम में 14 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है. पिछले क़रीब दो हफ़्तों से पेट्रोल-डीज़ल के दाम में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. अब आज की बढ़ोतरी के बाद दिल्ली में पेट्रोल 80 रुपये 87 पैसे और डीज़ल 72 रुपये 97 पैसे प्रति लीटर बिक रहा है. वहीं मुंबई में पेट्रोल 88 रुपये 26 पैसे और डीज़ल 77 रुपये 47 पैसे प्रति लीटर बिक रहा है. वहीं महाराष्‍ट्र के परभणी में पेट्रोल की कीमत  90.30 प्रति लीटर हो गई है और डीजल की कीमत 78.49 प्रति लीटर हो गई है.

 

पेट्रोलियम मंत्रालय का आंकड़ा ये भी बताता है कि पेट्रोलियम पदार्थों से कमाई हुई है.
4 साल में पेट्रोलियम से कमाई
 (केन्द्र और राज्य सरकारें)

  • 2014-15:  3,32,619 करोड़
  • 2015-16 : 4,13,824 करोड़
  • 2016-17:  5,24,304 करोड़
  • 2017-18: 5,53,013 करोड़

कुल कमाई: 18,23,760 करोड़