जीवन में चाहिए सुख तो समृद्धि के लिए अपनाएं अचूक उपाय

जीवन में चाहिए सुख तो समृद्धि के लिए अपनाएं अचूक उपाय
Published Date:

माह की हर अमावस्या पर पूरे घर की अच्छी तरह से साफ-सफाई की जानी चाहिए। साफ-सफाई के बाद घर में धूप-दीप-ध्यान करें।

इस रात्रि में चांदी की कटोरी में अगर कपूर को जलायें, तो परिवार में सुख, समृद्धि की वर्षा होती है।

अगले दिन गाय के खुर की मिट्टी से, अथवा तुलसीजी की मिट्टी से तिलक करें, सुख-शान्ति में बरकत होगी।

रात्रि में काले तिल परिवार के सभी सदस्यों के सिर पर सात बार उतारें और घर की पश्चिम दिशा में फेंक दें, ऐसा करने से धन हानि बंद होकर, सुख-समृद्धि बनी रहेगी।

एक नया झाड़ू खरीद कर लायें तथा इस दिन इसी झाड़ू से घर की अच्छी तरह से साफ-सफाई करें। साफ-सफाई करने के बाद इस झाड़ू को छुपाकर रखें।

प्रातः काल सारे घर की साफ-सफाई, शुद्धता होने के बाद मुख्य द्वार पर आम या अशोक के पत्तों का बंदनवार लगायें. इससे शुभ शक्तियां घर में प्रवेश करती हैं।

किसी मंदिर में झाड़ू का दान करें। घर के आसपास महालक्ष्मी का मंदिर हो तो वहां गुलाब की सुगंध वाली अगरबत्ती का दान करें।

पीपल के 11 पत्ते तोड़ें, चंदन की स्याही का प्रयोग करते हुए उनपर श्रीराम का नाम लिखें। पीपल के पेड़ के नीचे बैठकर इन पत्तों की माला बनाकर हनुमान जी को पहनायें।

सायंकाल पीपल के पेड़ के नीचे सात दीपक जलाएं और सात बार वृक्ष की परिक्रमा करें। घर में सुख-समृद्धि का वास होगा।

काली राई, सरसों का तेल का दो मुख वाला दीपक ले,सायंकाल में चैराहे पर पूर्व दिशा की तरफ मुख करके दोनों मुट्ठियों में राई ले, बाईं ओर की राई को दाईं ओर फेंक दें तथा दाईं ओर की राई को बाईं ओर फेंक दे। इसके बाद चैराहे पर दो मुख वाला दीपक जलायें, और घर आ जायं। और हाथ पैर धो लें।