जिले का पहला आईएसओ प्रमाणितकृत विद्यालय बना मॉडल स्कूल महुआ

जिले का पहला आईएसओ प्रमाणितकृत विद्यालय बना मॉडल स्कूल महुआ
Thursday, April 5, 2018 - 00:35

दौसा - जिले के उपखण्ड महवा डिजिटल इंडिया के नाम से जाना जाता है इसी कड़ी में आज महवा के इस विकास में एक और कड़ी जुड़ गई वह है आईएसओ प्रमाण पत्र जो अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण संगठन द्वारा गुणवत्ता प्रबंधन के अंतर्गत स्वामी विवेकानंद राजकीय मॉडल स्कूल महुआ को प्रमाण पत्र नंबर 26410 जारी किया गया विद्यालय के प्रिंसिपल डॉक्टर बी अल नापित ने बताया कि कक्षा 6 से 8 तक के सीबीएसई पाठ्यक्रम अंग्रेजी माध्यम को गुणवत्ता पूर्वक शिक्षा देने शैक्षणिक गतिविधियों के प्रभावी आयोजन सामुदायिक सहभागिता के प्रमाणित आयोजन हेतु उच्च विद्यालय को मार्च 2018 से मार्च 2021 तक के लिए जिले में पहला आईएसओ प्रमाण पत्र प्रदान किया है

बीएल नापित प्रिंसिपल मॉडल स्कूल नयागांव महुआ - हमारे देश की महुआ उपखंड के एकमात्र सीबीएससी से संबंध और अंग्रेजी माध्यम वाले राजकीय विद्यालय के माध्यम से ग्रामीण परिवेश के विद्यार्थियों को गुणवत्ता पूर्वक शिक्षा प्रदान करते हैं विभिन्न शैक्षिक गतिविधियों का नियमित आयोजन करते हैं विद्यार्थियों का सर्वजन विकास करना तथा प्रतिस्पर्धा के युग में गुणात्मक एवं मात्रात्मक दृष्टि से उत्कृष्ट परिणाम देना पहला कर्तव्य है

आईएसओ क्या है - आईएसओ इंटरनेशनल आर्गेनाइजेशन ऑफ स्टैंडर्डज़ेशन अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण संगठन है यह संस्था गुणवत्ता के मानक निर्धारित करता है मान्यता एवं प्रमाण द्वारा इस का प्रबंध किया जाता है और उत्पादकों की औपचारिक क्रियाओं को लागू करता है इस संगठन का मुख्यालय जेनेवा में स्थित है विश्व के 163 सदस्य देशों का मानक संगठन है

जिले का पहला आईएसओ प्रमाण पत्र मॉडल स्कूल महुआ को मिला है वह भी राजकीय विद्यालय के लिए अनुकरणीय है इस विद्यालय के प्रधानाचार्य डॉक्टर बी एल नापित को पूर्व में स्वंय की शैक्षणिक व शैक्षणिक उपलब्धियों के लिए ग्लोबल लीडरशिप फाउंडेशन द्वारा राज्य स्तरीय पर पुरस्कृत किया जा चुका है