भगोड़े कारोबारियों पर लगाम लगाने वाला बिल संसद में पेश, 100 करोड़ के फ्रॉड पर संपत्ति होगी अटैच

भगोड़े कारोबारियों पर लगाम लगाने वाला बिल संसद में पेश, 100 करोड़ के फ्रॉड पर संपत्ति होगी अटैच
Published Date:

नई दिल्ली : वित्तीय फ्रॉड कर देश से भागने वाले कारोबारियों पर लगाम लगाने के लिए केंद्र सरकार ने लोकसभा में नया विधेयक पेश कर दिया है। पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में हुए महाघोटाले के बाद अब केंद्र सरकार उन लोन डिफॉल्टर्स पर बड़ी कार्रवाई की तैयारी कर रही है, जो देश को करोड़ों रुपये की चपत लगाकर विदेश चले गए हैं।

रिपोर्ट्स के मुताबिक विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी व अन्य की संपत्तियों को जब्त करने पर विचार चल रहा है। साथ ही ऐसे मामलों पर भी नजर रखी जा रही है, जहां धोखाधड़ी के आसार हो सकते हैं।

यह स्थिति तबतक बनी रहेगी जबतक भगोड़ा वापस आ कर न्यायिक प्रक्रिया में शामिल नहीं हो जाता। सरकार ने 9000 करोड़ का कर्ज लेकर विदेश भागने वाले शराब व्यवसायी और राज्यसभा सांसद विजय माल्या प्रकरण के बाद ऐसे कानून बनाने का फैसला किया था। पिछले साल मई से इसपर काम चल रहा है।

100 करोड़ का घपला करने वालों पर होगी सख्ती
करीब 100 करोड़ से ज्यादा के लोन डिफॉल्टर्स के खिलाफ ऐसे सख्त कदम उठाए जा सकते हैं।नेशनल फाइनेंसियल रिपोर्टिंग अथॉरिटी के साथ डिफॉल्टर्स पर किस तरह से सख्ती लगाई जाए इस पर बातचीत करने के बाद केंद्र सरकार यह बिल पेश किया है।