इन बदलावों के साथ तीसरे टी-20 में इतिहास रचने उतरेगी टीम इंडिया

इन बदलावों के साथ तीसरे टी-20 में इतिहास रचने उतरेगी टीम इंडिया
Published Date:

(साभार BCCI)

केपटाउन: भारतीय टीम शनिवार को निर्णायक तीसरे टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उतरेगी तो उसका इरादा उतार चढ़ाव से भरे इस दौरे का जीत के साथ शानदार अंत करने का होगा। पिछले मैच में मिली हार के झटके से उबरते हुए विराट कोहली की टीम आठ सप्ताह लंबे इस दौरे को एक और श्रृंखला जीतकर अंजाम तक पहुंचाना चाहेगी। तीन मैचों की श्रृंखला फिलहाल 1-1 से बराबर है। भारत ने जोहान्सबर्ग में पहला टी-20 मैच 28 रन से जीता। इसके बाद दक्षिण अफ्रीका ने सेंचुरियन में छह विकेट से जीतकर बराबरी की।
भारत ने न्यूलैंड्स पर कभी टी20 क्रिकेट नहीं खेला है। यहां भारत का यह पहला टी-20 मैच है जबकि दक्षिण अफ्रीका ने यहां आठ टी-20 खेलकर पांच गंवाये हैं। उसे दो जीत 2007 टी-20 विश्व कप में मिली और द्विपक्षीय श्रृंखला में एकमात्र जीत 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ मिली थी। दक्षिण अफ्रीका ने दिखा दिया है कि टी-20 प्रारूप उसे अधिक रास आता है। उसने वर्षा बाधित पिंक वनडे जीता और इस श्रृंखला के पहले मैच में भी 204 रन का लक्ष्य हासिल करने के करीब पहुंचा था।

पिछले मैच में कार्यवाहक कप्तान जेपी डुमिनी ने मोर्चे से अगुवाई करते हुए रणनीति पर अमल किया । अब देखना यह होगा कि मेजबान टीम अपनी गेंदबाजी की क्या रणनीति बनाती है और भारतीय गेंदबाजों पर दबाव बनाने के लिये क्या करती है। पिछले मैच में दक्षिण अफ्रीका ने अंतिम एकादश में बदलाव नहीं किया और अब यह देखना होगा कि निर्णायक मैच में भी क्या वे इस पर कायम रहते हैं । जोन स्मट्स प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे हैं जबकि डेविड मिलर भी खराब फार्म में हैं।

दूसरे टी-20 में जसप्रीत बुमराह पेट में खिंचाव के कारण बाहर रहे थे। अभी भी उनका खेलना तय नहीं है। टीम प्रबंधन उन्हें लेकर कोई जोखिम नहीं लेना चाहेगा क्योंकि श्रीलंका में त्रिकोणीय श्रृंखला दो सप्ताह बाद ही खेलनी है। पिछले दो मैचों में भारतीय गेंदबाजों में जयदेव उनादकट काफी महंगे साबित हुए जिन्होंने 9.78 की औसत से 75 रन दिए। युजवेंद्र चहल ने आठ ओवर में 103 रन देकर एक विकेट लिया। ऐसे में कोहली गेंदबाजी आक्रमण में बदलाव की सोच सकते हैं । बुमराह के खेलने पर उनादकट को बाहर रखा जा सकता है। पिछले मैच में डेब्युटेंट शार्दुल ठाकुर ने चार ओवर में 31 रन देकर एक विकेट लिया था। भारतीय टीम अक्षर पटेल को भी उतार सकती है जिससे तीसरे तेज गेंदबाज के रूप में हार्दिक पंड्या पर फोकस होगा।
दोनों टीमें इस प्रकार हैं

भारत: विराट कोहली ( कप्तान ), शिखर धवन, रोहित शर्मा, सुरेश रैना, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, एम एस धोनी, हार्दिक पंड्या, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, जयदेव उनादकट, शार्दुल ठाकुर।
दक्षिण अफ्रीका: जेपी डुमिनी (कप्तान ), फरहान बेहरदीन, जूनियर डाला, रेजा हेंडरिक्स, क्रिस्टियन जोंकर, हेनरिच क्लासेन, डेविड मिलर, क्रिस मॉरिस, डेन पीटरसन, आरोन फागिंसो, एंडिले पी, तबरेज शम्सी, जोन जोन स्मट्स ।
मैच का समय : भारतीय समयानुसार रात 9.30 से।