जी 7 समूह के देश रूस के खिलाफ एकजुट

जी 7 समूह के देश रूस के खिलाफ एकजुट
Published Date:

टोरंटो। जी-7 देशों के विदेश मंत्रियों ने रूस के रवैए के खिलाफ एकजुट होने के साथ ही बातचीत के लिए दरवाजा खुला रखने पर सहमति व्यक्त की है। अमेरिका के वरिष्ठ अधिकारी ने रविवार को यह जानकारी देते कहा कि विदेश मंत्रियों की बैठक में रूस, ईरान और उत्तर कोरिया के मुद्दे पर चर्चा की गई तथा वेनेजुएला और म्यांमार में राजनीतिक समस्याओं पर भी बातचीत हुई है।

अमेरिका के विदेश विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर यहां पहले दिन की बैठक के समाप्त होने पर बताया कि रूस के व्यवहार पर जी-7 समूह ने एकमत से इसका विरोध किया है। वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि रूस के साथ वार्ता के लिए जी-7 समूह के सदस्यों के दरवाजे खुले हैं जबकि हम रूस को उसकी गतिविधियों और राष्ट्रों को अस्थिर करने के उसके प्रयासों के लिए उसे जिम्मेदार ठहराते हैं।

उन्होंने कहा कि हम उन्हें कह रहे हैं कि यदि तुम अपने आपको शक्तिशाली राष्ट्र मानते हो तो हमारे साथ मिलकर काम करो। जर्मनी के विदेश मंत्री हैयको मास ने सीरिया संकट का हल निकालने में रूस से मदद करने का आह्वान करते कहा कि हम जानते हैं कि सीरिया संकट का समाधान रूस के बिना नहीं हो सकता है। (वार्ता)