डाकघरों में 1 अप्रैल से मिलेंगी 5 शानदार स्कीमें, थोड़ी सी इन्वेस्टमेंट और मोटा मुनाफा

डाकघरों में 1 अप्रैल से मिलेंगी 5 शानदार स्कीमें, थोड़ी सी इन्वेस्टमेंट और मोटा मुनाफा
Published Date:

एक अप्रैल से देश का सबसे बड़ा इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक अपनी सर्विस शुरू कर देगा। देश के कई भागों में पायलट प्रोजेक्ट के तहत इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक खुल रहा है। शुरुआत में देश के 50 जिलों से इस बैंक को आरंभ किया जाएगा। बाद में देश के सभी भागों में इसकी शाखाएं खोली जाएंगी। इस बैंक का गठन डाक विभाग के अधीन सार्वजनिक कंपनी के रूप में किया जाएगा। बैंक को पेशेवर कर्मचारियों के माध्यम से चलाया जाएगा, जिनकी नियुक्ति अलग से होगी।

इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक लोगों को कर्ज मुहैया कराने के साथ साथ बीमा सुविधाएं भी प्रदान करेगा। इसके जरिए सभी नागरिकों को कई सारी सेवाएं फ्री में मिलेंगी। पोस्ट मैन और ग्रामीण डाक सेवक शहरी और ग्रामीण इलाकों में डिजिटल भुगतान सेवा पहुंचाएंगे। बैंक के माध्यम से बेसिक बैंकिंग, डीबीटी लाभ का भुगतान, विभिन्न प्रकार के बिलों का भुगतान और टैक्स जमा करने जैसी सुविधाएं प्राप्त की जा सकेंगी। मार्च महीने से इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक काम करना शुरू कर देगा।

इसके अलावा पेमेंट बैंक के तहत एक लाख रुपये तक का सेविंग अकाउंट खुलवाया जा सकेगा। पेमेंट बैंक 25 हजार रुपए की जमा राशि पर 4.5 फीसदी का ब्याज, 25 हजार से 50 हजार रुपए की जमा राशि पर 5 फीसदी ब्याज और 50 हजार से 1 लाख रुपए की जमा राशि पर 5.5 फीसदी की रेट से ब्याज देगा। बैंक लोगों और छोटे कारोबारियों से 1 लाख रुपए तक का डिपॉजिट लेगी। लेकिन, पेमेंट बैंक से किसी तरह का लोन उपलब्ध नहीं होगा।

बैंक करंट अकाउंट और फाइनेंशियल सर्विस भी उपलब्ध करागी। इसके तहत इंश्योरेंस, म्युचअल फंड जैसी सुविधा भी मिलेगा। बैंक में लेनदेन के लिए आपका पता आधार कार्ड के पते के अनुसार ही मान्य होगा। पोस्टल पेमेंट बैंक ट्रांस्जेक्शन चार्ज के तौर पर 1 पैसा लेने की कोशिश करेगा। साथ ही 10 रुपए तक के ट्रांजेक्शन को भी इंडिया पोस्ट लोगों के सुविधा के अनुसार करने की कोशिश करेगा, ताकि लोगों को असुविधा न हो।