उत्तर प्रदेश : सपा-बसपा के योग ने बढ़ाई योगी की चिंता

उत्तर प्रदेश : सपा-बसपा के योग ने बढ़ाई योगी की चिंता
Published Date:

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर लोकसभा का उपचुनाव भाजपा और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए बेहद प्रतिष्ठापूर्ण बन गया है। यही कारण है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ताबड़तोड़ रैलियां कीं मतदाताओं से पार्टी उम्मीदवार के पक्ष में वोट डालने की अपील की। सपा-बसपा का एक साथ आना भी योगी के लिए चिंता का कारण है।

इसकी मुख्य वजह है कि गोरखपुर सीट से योगी 5 बार सांसद चुने जा चुके हैं और दूसरी तरफ सपा-बसपा गठजोड़ भी बीजेपी के लिए चिन्ता का कारण बना हुआ है। गोरखपुर सीट पर अगर नजर हालें तो 1952 में पहली बार गोरखपुर लोकसभा सीट के लिए चुनाव हुआ और कांग्रेस ने जीत दर्ज की। इसके बाद गोरक्षनाथ पीठ के महंत दिग्विजयनाथ 1967 में निर्दलीय चुनाव जीता।