दौसा पुलिस द्वारा एक और अंतर्राजीय गरोह का 24 घंटे में किया खुलासा

दौसा पुलिस द्वारा एक और अंतर्राजीय गरोह का 24 घंटे में किया खुलासा
Friday, April 13, 2018 - 21:51

★शराब लुटेरे व नकबजन के मॉल व अवैध हथियार सहित चार
अपराधी गिरफ्तार ★

दौसा - दौसा जिले मैं रात्रि के समय शराब के ठेकों पर सेल्समैन को बंधक बनाकर शराब की दुकानें लूटने चौपहिया वाहनों को चोरी करने व घरों में चोरी की घटनाओं को अंजाम देने वाले गिरोह का धर पकड़ हेतु चलाए गए विशेष अभियान के दौरान 12 मार्च को रात्रि करीब 12:00 बजे विक्रम गैंग नयाबास नीम का थाना जिला सीकर गैग के सदस्य द्वारा दौसा जिले के थाना सिकंदरा के मौजा कालाखो अंबाडी में शराब के ठेके पर सेल्समैन को बंधक बनाकर लूटी गई शराब व वारदात में प्रयोग किया गया हथियार सहित चार बदमाशों को गिरफ्तार कर अपराधियों को जेल की सलाखों के पीछे कर अपराध पर लगाम लगाना शुरु कर दिया है दौसा में जब से नए पुलिस अधीक्षक चुनाराम जाट तब से दौसा जिले में अपराधियों पर काफी लगाम लगाने में कामयाब हुए हैं जिसके चलते उन्होंने महज वारदात के 24 घंटे के भीतर बड़ा खुलासा कर यह साबित कर दिया है
दौसा जिले के कालाखो अंबाडी गांव में बुधवार रात बदमाश शराब की दुकान पर फायरिंग कर सेल्समेन की कनपटी पर पिस्टल लगाकर दो लाख की शराब पीकप में भरकर ले गए पीछा करने पर बीयर की बोतल व पत्थर और फायरिंग किए गए सिकंदरा थाने में शिवराम मीणा ने थाने में मामला दर्ज कराया की करीब 12:00 बजेगाड़ी नंबर आरजे 21 0467 में आये और आते ही फायरिंग करते हुए आये लोहे की दुकान का शटर तोड़कर अंदर रखें शराब गाड़ी में भर कर ले गये

गिरफ्तार किये गये ये अपराधी

गिरोह में गिरफ्तार किए गए अपराधियों में विक्रम सिंह मीणा पुत्र नाथ सिंह मीणा निवासी नयाबास थाना कोतवाली नीमकाथाना सीकर जिला गिरोह का सरगना है तो दशरथ कुमार पुत्र ओमप्रकाश मीणा निवासी राणासर थाना कोतवाली थाना नीमका जिला सीकर गिरोह का सदस्य रास्ता का जानकार बताया जाता है नरेंद्र यादव उर्फ देवी पुत्र गुलजारी उर्फ राजेंद्र जाति अहीर निवासी सितारों की ढाणी दलपतपुरा थाना पाटन जिला सीकर हाल निवासी खेतड़ी मोड नीम का थाना जिला सीकर गिरोह का सदस्य है तो चौथा गिरोह का सदस्य सूरजभान सिंह मीणा निवासी राणासर थाना कोतवाली थाना नीमका जिला सीकर गिरोह का सदस्य है गिरोह के अन्य - सदस्य हजारी लाल उर्फ दादा अनिल कुमार उर्फ पाग्ला सुरेश कुमार कृष्ण कुमार सदस्य की तलाश जारी है

वारदात में ये वाहन लेते थे काम

गिरोह द्वारा वारदात में बोलेरो व केम्पर तथा पिकअप वाहन का इस्तेमाल किया जाता है जो अधिकतर चोरी की होती है
गैग द्वारा प्रयुक्त हथियार- आधुनिक किस्म की रिवाल्वर तथा पिस्टल का प्रयोग किया जाता है कई जगह पुलिस पार्टी पर भी फाइरिंग की जा चुकी है गिरफ्तारी के दौरान एक लोडेड रिवाल्वर जप्त किया गया है
गरोह द्वारा इस तरह से वारदात को दिया जाता था अंजाम - पूर्व में शराब के ठेकों पर रात्रि के समय चोरी के वाहन से वारदात को अंजाम दिया जाता है वारदात के दौरान जाग हो जाने के दौरान मारपीट व फायरिंग कर वारदात को अंजाम दिया जाता है और अपने ग्रुप के सदस्यों द्वारा पुलिस वाहन पर बीयर की बोतलों से हमला किया जाता है फायरिंग की जाती है प्रत्येक वारदात में चार से पांच सदस्य शामिल होते हैं शराब की दुकान पर यदि सेल्समेन हो तो उसे बंधक बनाकर वारदात को अंजाम दिया जाता है
मॉल की खपत - गरोह द्वारा वारदात में लूटे गये माल को दिनेश और तांत्रिक राजू छक्क सुरेश उर्फ बुचिया ताराचंद निवासीगण नयाबास थाना नीम का थाना जिला सीकर को बेच दिया जाता है
प्राथमिक पूछताछ पर गिरोह द्वारा स्वीकार की गई वारदात में बताया - दौसा जिला अलवर जयपुर सीकर झुंझुनू चूरू गंगानगर बीकानेर नागौर सहित अन्य कई जिलों में ठेके से शराब लूट गरोह में नकबजनी की वारदातों को अंजाम देना कबूल किया है

दौसा पुलिस अधीक्षक चुनाराम जाट ने बताया कि जिले में हो रही वारदातों के लिए पुलिस अधीक्षक द्वारा विशेष टीम के सदस्य में कुशाल सिंह पुलिस निरीक्षक थाना अधिकारी सिकंदरा जहीर अब्बास थाना अधिकारी थाना बसवा राम सिंह थानाधिकारी सदर अजीत सिंह थानाधिकारी सैंथल मुकेश कुमार थानाधिकारी नांगल राजावतान रविंद्र कुमार थानाधिकारी लवाण भूप सिंहएचसी कांस्टेबल सुरज्ञान लखन ईश्वर सिंह इंदल दारा सिंह गोविंद राम अवतार विकास गिर्राज सहायक उपनिदेशक तकनीकी सहायक (साइबर सेल दौसा )