तीन तलाक बिल के विरोध में मुस्लिम महिलाएं उतरी सड़कों पर मौन जुलूस निकाल किया विरोध

तीन तलाक बिल के विरोध में मुस्लिम महिलाएं उतरी सड़कों पर मौन जुलूस निकाल किया विरोध
Friday, March 30, 2018 - 19:05

दौसा - तीन तलाक के विरोध में आज दौसा जिला मुख्यालय के ईदगाह कॉलोनी से मुस्लिम महिलाएं एकत्रित होकर बरकत स्टेचू नागौरी मोहल्ला लालसोट रोड गांधी तिराहा आगरा रोड सोमनाथ तिराहा होते हुए जिला कलेक्ट्रेट पहुंचे जहां पर दौसा उपखंड अधिकारी संतोष गोयल को राष्ट्रपति के नाम अपना ज्ञापन सौंपा महिलाओं द्वारा मौन जुलूस निकालने में दौसा लालसोट सवाई माधोपुर बोली महुआ जयपुर की मुस्लिम महिलाओं ने भाग लिया

महिलाएं पंक्तिबद्ध होते हुए मौन जुलूस के माध्यम से अपना विरोध प्रदर्शन किया तो कई महिलाओं ने हाथ में तख्ती लेकर ट्रिपल तलाक बिल के विरोध में स्लोगन लिखकर अपना विरोध दर्ज कराया इस अवसर मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड के सदस्य यासमीन फारुकी ने कहां की भारत में 180 शहरों में इस बिल का विरोध कर चुके हैं अब तक एक लाख महिलाएं सड़कों पर आ चुकी है ट्रिपल तलाक बिल है गलत पास कर दिया गया है

इस बिल को तुरंत वापस सरकार को लेना चाहिए जो बिल राजसभा में है वह बिल पास नहीं हो वह हमारे ख्वातीन के लिए नुकसान दायक है क्योंकि इसमें गैर जमानती कानून है इसके अंदर किसी भी महिला ने झूठे भी कह दिया कि उसके बाद पति ने उसे तलाक दे दिया है तो उस आदमी को 3 साल की सजा है वह भी बिना जमानती के और भारतीय कानून ऐसा है कि जब तक उस औरत के द्वारा लगाए गए आरोप झूठे साबित होंगे तब तक वह आदमी इस दुनिया में से जा चुका होगा इसलिए तीन तलाक के बाद भी आदमी 3 साल की सजा काटेगा तब उसकी मां बच्चों का कौन जिम्मेदारी उठायेगा और फिर इस बात की क्या गारंटी है कि 3 साल की सजा होने के बावजूद भी वह पति पत्नी वापस एक साथ रह सकते हैं इसलिए हमें हमारी संवैधानिक धर्म अधिकार को हमसे नहीं छीना जाए और धारा 25 में हमें हमारे धर्म के सभी नियम मानने के लिए स्वतंत्र है उसका पालन किया जाना चाहिए