कहने को इंजीनियर सांसद ,लेकिन हिंदी भी लिखना नहीं आता

कहने को इंजीनियर सांसद ,लेकिन हिंदी भी लिखना नहीं आता
Published Date:

गोरखपुर【 आदित्य शुक्ला 】: गोरखपुर के नवनियुक्त इंजीनियर सांसद प्रवीण निषाद का एक पत्र सामने आया है , जिसमे उनके लिखावट की जितनी भी प्रशंसा करें वो कम है , सांसद जी कहने को तो अपने नाम के सामने इंजीनियर लिखते हैं लेकिन उन्हें शुद्ध हिंदी लिखने को नहीं आती। प्राप्त जानकारी के अनुसार गोरखपुर में हुए लोकसभा उपचुनाव में सपा बसपा और निषाद पार्टी के संयुक्त उम्मीदवार इंजीनियर प्रवीण कुमार निषाद विजयी हुए थे, उनका एक पत्र सामने आया है जिसमे उन्होंने प्रेस क्लब गोरखपुर को प्रेस कान्फ्रेंस करवाने को एक पत्र लिखा था , उस पत्र की लिखावट से यह पूरी तरह पता चलता है कि इंजीनियर सांसद साहब कितने पढ़े लिखे हैं और वह अपनी जनता की समस्याओं का निराकरण कैसे करेंगे ।