राजस्थान के कुछ जिलों में हुई ओलावृष्टि, फसल खराब होने से किसान मायूस, मुख्यमंत्री राजे ने दिए निर्देश

राजस्थान के कुछ जिलों में हुई ओलावृष्टि, फसल खराब होने से किसान मायूस, मुख्यमंत्री राजे ने दिए निर्देश
Published Date:

जयपुर : मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने सीकर और अलवर सहित प्रदेश के कुछ जिलों में हुई ओलावृष्टि के कारण फसलों को हुए नुकसान पर चिंता जाहिर की है और प्रभावित क्षेत्रों में तत्काल सर्वे करने के निर्देश दिए हैं।
राजे ने आपदा प्रबंधन विभाग के अधिकारियों और प्रभावित जिलों के कलक्टर को निर्देशित किया है कि रबी की फसल को ओलावृष्टि एवं बारिश से हुए नुकसान का आकलन करें और रिपोर्ट जल्द से जल्द राज्य सरकार को भेजें, ताकि आगे की कार्रवाई की जा सके।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार किसानों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है और उनको किसी प्रकार की कठिनाई नहीं आने दी जाएगी।
प्रदेश में रविवार को एकाएक मौसम बदल गया। शेखावाटी सहित अलवर, नागौर, भरतपुर सहित कई जिलों में धूलभरी आंधी के साथ तेज बारिश और ओलावृष्टि हुई। शेखावाटी, कुचामन और अलवर में 10 मिनट से आधे घंटे तक हुई ओलावृष्टि से ओलों की चादर बिछ गई। इससे खेतों में तैयार खड़ी फसलों को काफी नुकसान होने की वजह से किसानों में मायूसी छा गई।

सबसे ज्यादा नुकसान सीकर जिले में हुआ है, जहां 90 से अधिक गांवों में फसल चौपट हो गई। इसके अलावा अलवर और नागौर के कुचामनसिटी में भी ओलावृष्टि के कारण गेहूं, जौ, चना, सरसों, ईसबगोल की फसल खराब हो गई।