रेलवे में 3 कर्मचारियों की सैलरी बनाने के लिए काम कर रहे 42 लोग

रेलवे में 3 कर्मचारियों की सैलरी बनाने के लिए काम कर रहे 42 लोग
Wednesday, April 11, 2018 - 10:09

नई दिल्लीः भारतीय रेलवे में लापरवाही का अजीबो-गरीब मामला सामने आया है. उत्तर रेलवे के तहत आने वाले लखनऊ रेलवे विभाग में बड़ी लापरवाही उजागर हुई है.

जानकारी के मुताबिक लखनऊ के रेलवे विभाग में 3 कर्मचारियों की तनख्वाह का हिसाब-किताब बनाने के लिए 42 कर्मचारी काम कर रहे हैं. कैग की रिपोर्ट में रेलवे विभाग की इस लापरवाही का खुलासा हुआ है.

कैग की कैश ऑफिस की ऑडिट में पाया कि पिछले तीन सालों में इन 42 कर्मचारियों के वेतन के रूप में 10.70 करोड़ रूपये भुगतान किये गये हैं. दरअसल, लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन पर इन 42 कर्मचारियों को कैश में वेतन बांटने के लिये नौकरी पर रखा गया था.

ये ऑफिस रेलवे के कर्मचारियों को नगद वेतन बांटने के लिये बनाया गया था. लेकिन डिजिटलाइजेशन के शुरू हो जाने की वजह से कर्मचारियों का वेतन कैश में दिए जाने की बजाए सीधे अकांउट मे भेजा जाने लगा. लिहाजा कैश में वेतन बांटने वाले कर्मचारियों के पास कोई काम ही नहीं रह गया.

हैरानी की बात है कि कोई काम ना होने के बावजूद अधिकारियों ने इन्हें ना तो कहीं ट्रांसफर किया और ना ही इनसे कोई काम लिया. अब कैग रिपोर्ट में असलियत सामने आने के बाद अधिकारी कोई भी जवाब देने से बच रहे हैं.