Breaking Newsअपराधखेलताजा ख़बरेंदेशमनोरंजनराजनीतीराज्यलाइफस्टाइलव्यापारशिक्षास्वास्थ्य

GST काउंसिल की बैठक 14 मार्च को, ये प्रोडक्‍ट्स हो सकते हैं सस्‍ते

जीएसटी काउंसिल की 14 मार्च को होने वाली बैठक में मोबाइल फोन, जूता-चप्पल और कपड़ा समेत पांच क्षेत्रों पर टैक्‍स दरों को युक्ति संगत बनाया जा सकता है.
आगामी 14 मार्च को गुड्स एंड सर्विसेज टैक्‍स यानी जीएसटी काउंसिल की बैठक होने वाली है. इस बैठक में मोबाइल फोन, जूता-चप्पल और कपड़ा जैसे प्रोडक्‍ट के सस्‍ते होने की उम्‍मीद की जा रही है. दरअसल, लंबे समय से इन प्रोडक्‍ट्स की जीएसटी दर को घटाए जाने की मांग हो रही है.

अभी क्‍या है चार्ज

वर्तमान में सेल्यूलर मोबाइल फोन पर 12 प्रतिशत शुल्क है जबकि इसके कुछ कच्चे माल पर जीएसटी 18 प्रतिशत है. जूते चप्पल के मामले में काउंसिल ने 1,000 रुपये मूल्य के उत्पाद पर पिछले साल जून में कटौती की थी और यह 5 प्रतिशत पर आ गया था. वहीं इससे अधिक मूल्य के जूते-चप्पल पर जीएसटी 18 प्रतिशत है. हालांकि इस क्षेत्र में उपयोग होने वाले कच्चे माल पर जीएसटी दर 5 से 18 प्रतिशत है. वहीं टेक्‍सटाइल क्षेत्र पर जीएसटी 5,12 और 18 प्रतिशत है. इससे निर्यातकों द्वारा रिफंड के दावे और उसे जारी करने में कठिनाई का सामना करना पड़ता है.

जीएसटी नेटवर्क पोर्टल पर चर्चा संभव

इसके साथ ही काउंसिल की बैठक में नये रिटर्न फाइल करने की व्यवस्था और ई-इनवॉयस के क्रियान्वयन को टाले जाने की संभावना है. न्‍यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक अधिकारियों ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में परिषद की बैठक में जीएसटी नेटवर्क पोर्टल पर परिचालन संबंधी खामियों पर चर्चा होने की उम्मीद है.
बैठक में इन्फोसिस से इसके समाधान की योजना की मांग की जा सकती है. बता दें कि आईटी कंपनी इन्फोसिस को 2015 में जीएसटीएन नेटवर्क के तकनीकी प्रबंधन का ठेका दिया गया था. इसके अलावा राजस्व संग्रह बढ़ाने के बारे में भी चर्चा होगी क्योंकि केंद्र ने राज्यों को यह साफ कर दिया है कि उसके पास राज्यों को जीएसटी के क्रियान्वयन के कारण राजस्व नुकसान की क्षतिपूर्ति के लिये कोष नहीं है.

Tags

Related Articles

Back to top button
Close